Friday, May 26, 2017

विदाई

ये दोस्ती के जमाने  याद  आयेंगे ।
ये दोस्त  पुराने  याद  आयेंगे ।
इन दोस्तों  की  बातें याद  आएगी ।
जब विदाई  हो जाएगी ।।

वो काॅलेज  याद  आयेंगी ।
वो  दोस्तों  की  शैतानिया याद आयेंगी ।
वो दोस्तों  का चिड़ाना  याद  आयेगा ।
जब विदाई  हो  जाएगी ।।

वो  साथ  घूमना  फिरना  याद  आयेगा ।
वो  कॉलेज  का झगड़ा  याद  आयेगा ।
वो  बात - बात  पर  दोस्तों  का  सताना  याद  आयेगा ।
जब विदाई हो जाएगी ।।

वो  मैडम की डाँट  याद आएगी ।
वो  सर  की  फटकार  याद आएगी ।
वो  सबका  प्यार  याद  आएगा ।
जब  विदाई हो जाएगी ।।

लेखक विरेन्द्र भारती
मो.  8561887634

गजल एक भारती